ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
यूपी में रिकॉर्ड 982 पॉजिटिव मिले, मंत्री मोती सिंह व उनकी पत्नी भी संक्रमित
July 4, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की जांच के जोर पकड़ते ही बड़ी संख्या में संक्रमित मरीज भी सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को प्रदेश में अब तक के रिकॉर्ड 982 कोरोना संक्रमित सामने आए। अब कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 25,454 हो गई है। बीते 24 घंटे में सर्वाधिक 27,565 नमूनों की जांच भी की गई। इससे पहले बीती दो जुलाई को 817 मरीज मिले थे और 24890 नमूनों की जांच की गई थी। बीती 19 जून को भी 817 मरीज मिले थे और तब एक दिन में 14048 लोगों की कोरोना जांच कराई गई थी। 

राज्य में संक्रमण के प्रसार में अब मंत्री, प्रशासनिक अधिकारी, डॉक्टर्स तथा मेडिकल स्टाफ भी आ रहे हैं। योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह और उनकी पत्नी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। इसके अलावा बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी के मेडिकल कॉलेज के नौ जूनियर डॉक्टर्स, मुरादाबाद में तहसीलदार तथा रामपुर में कलेक्ट्रेट के प्रशासनिक अधिकारी भी इसकी चपेट में हैं। सभी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद होम क्वॉरंटाइन हैं।

उत्तर प्रदेश में अब तक कुल 25,454 संक्रमित मरीज पाए जा चुके हैं। वहीं 14 लोगों की मौत के साथ अब तक 749 लोगों की मौत हो चुकी है। उधर, 17,597 मरीज अभी तक स्वस्थ हो चुके हैं और अब एक्टिव केस बढ़कर 7451 हो गए हैं। बीते 24 घंटे में जिन 14 लोगों की मौत हुई, उनमें आगरा, गाजियाबाद और सहारनपुर में दो-दो तथा मेरठ, नोएडा, रामपुर, प्रयागराज, फतेहपुर, झांसी, मैनपुरी, चंदौली और वाराणसी का एक-एक व्यक्ति शामिल है। अभी तक पूरे प्रदेश में 810991 लोगों की कोरोना जांच करवाई जा चुकी है। 

योगी आदित्यनाथ सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह कोरोना संक्रमण के लड़ने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ की टीम-11 में हैं। ग्रामीण विकास मंत्री मोती सिंह कोरोना पॉजिटिव हैं। उनके पहले नमूने की जांच पॉजिटिव आई है और दूसरी जांच के लिए सैंपल लिया गया है। सिविल अस्पताल से हुए ट्रूनेट टेस्ट में पॉजिटिव आया। दोबारा टेस्ट रिपीट किया जा रहा है। शुक्रवार शाम मोती सिंह की पत्नी की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आ गई है। उनका सैम्पल सिविल अस्पताल भेजा गया था। 

फिलहाल वह लखनऊ में अपने सरकारी आवास पर हैं और अब उनके संपर्क में आए लोगों की सूची तैयार की जा रही है। उनको अपने दूसरे टेस्ट की रिपोर्ट का इंतजार है। मंत्री डॉक्टरों की निगरानी में हैं। इसके बाद भी अब जरूरत पडऩे पर उन्हेंं अस्पताल भेजा जाएगा। वाराणसी में मेडिकल कॉलेज में अपने सेवा दे रहे बीएचयू के नौ जूनियर डॉक्टर्स कोरोना संक्रमण के प्रसार की चपेट में हैं।

बीते चौबीस घंटों के दौरान जो नए 982 मरीज मिले हैं उनमें आगरा में 23, मेरठ में 24, नोएडा में 96, लखनऊ में 70, कानपुर में 44, गाजियाबाद में 140, सहारनपुर में 18, फिरोजाबाद में एक, मुरादाबाद में 28, वाराणसी में 34, रामपुर में दो, जौनपुर में आठ, बस्ती में दो, बाराबंकी में 32, अलीगढ़ में 24, हापुड़ में चार, बुलंदशहर में 29, सिद्धार्थनगर में नौ, अयोध्या में 11, गाजीपुर में दो, अमेठी में सात, आजमगढ़ में 21, बिजनौर में छह, प्रयागराज में 23, संभल में नौ, बहराइच में दो, संत कबीर नगर में आठ, प्रतापगढ़ में छह, मथुरा में नौ, सुल्तानपुर में तीन, गोरखपुर में 18, मुजफ्फरनगर में 11, देवरिया में 13, रायबरेली में तीन, गोंडा में पांच, अमरोहा में एक, अंबेडकरनगर में छह, बरेली में 14, इटावा में 13, हरदोई में चार, महाराजगंज में चार, फतेहपुर में चार, कौशांबी में आठ, कन्नौज में पांच, पीलीभीत में तीन, शामली में तीन, बलिया में 14, जालौन में तीन, बदायूं में 12, बलरामपुर में आठ, भदोही में पांच, झांसी में 13, चित्रकूट में एक, मैनपुरी में एक, मिर्जापुर में 21, फर्रुखाबाद में दो, उन्नाव में 11, बागपत में 27, औरैय्या में एक, श्रावस्ती में एक, एटा में एक, बांदा में चार, हाथरस में पांच, मऊ में 11, चंदौली में दो, कानपुर देहात में दो, शाहजहांपुर में तीन, कासगंज में दो, कुशीनगर में 14, महोबा में तीन, सोनभद्र में दो, हमीरपुर में दो और ललितपुर में एक मरीज मिला है। 

रामपुर में शासनिक अधिकारी समेत दो कोरोना संक्रमित, कलेक्ट्रेट सील

रामपुर में मुरादाबाद निवासी कलेक्ट्रेट में तैनात एक अधिकारी समेत दो कोरोना संक्रमित मिलने पर कलेक्ट्रेट को सील कर सैनिटाइजेशन कराया गया। जिलाधिकारी समेत कलेक्ट्रेट के सभी अधिकारी और कर्मचारी शुक्रवार को कार्यालय में नहीं बैठे। कलेक्ट्रेट परिसर से ही सटे कचहरी परिसर पर भी इसका असर पड़ा। अधिवक्ताओं को भी अंदर नहीं जाने दिया गया। कलेक्ट्रेट में तैनात वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी की गुरुवार को तबीयत खराब होने पर अन्य कर्मचारी उन्हेंं जिला अस्पताल ले गए थे, जहां उनकी ट्रू नेट मशीन से कोरोना की जांच की गई। वह मुरादाबाद के गोविंदनगर के रहने वाले हैं। तबीयत ज्यादा बिगडऩे पर स्टाफ उन्हेंं मुरादाबाद ले गया। वहां परिजन भी आ गए। इसके बाद उन्हेंं प्राइवेट अस्पताल में आइसीयू में भर्ती कराया गया। शुक्रवार सुबह उनकी जांच रिपोर्ट पॉजीटिव आने पर हड़कंप मच गया। इसकी जानकारी मिलने पर जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने तत्काल ही कलेक्ट्रेट को सील करा दिया। अधिकारियों और कर्मचारियों को कार्यालयों में बैठने से मना कर दिया। सुबह कचहरी के लिए आने वाले अधिवक्ताओं और फरियादियों को भी वापस भेज दिया गया। जिलाधिकारी ने बताया कलेक्ट्रेट के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की जांच कराई जाएगी। फिलहाल 20 उन कर्मचारियों की जांच कराई गई है, जो वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी की तबीयत खराब होने पर उन्हेंं देखने गए थे और उपचार के लिए लेकर गए थे।

मुरादाबाद के सदर तहसीलदार समेत 17 कोरोना पॉजिटिव

मुरादाबाद में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को लखनऊ से मिली रिपोर्ट में मुरादाबाद के सदर तहसीलदार, कुंदरकी के सात लोगों समेत 17 लोग संक्रमित मिले हैं। इनमें मुहल्ला कंजरी सराय, लाइनपार की चाऊ की बस्ती, गांधी नगर, सम्राट अशोक नगर के दो, मानसरोवर कालोनी का एक, उमरी कलां का एक, पीलीकोठी पानी की टंकी की महिला शामिल है। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 491 पहुंच चुका है। इनमें से 333 स्वस्थ्य हो चुके हैं। फिलहाल शहर में 151 कोरोना सक्रिय मरीज हैंं और 24 लोगों की मौत हो चुकी है।

संत कबीरनगर में आठ और नए कोरोना पॉजिटिव

संत कबीरनगर में शुक्रवार को 448 नमूनों की जांच रिपोर्ट जारी हुई। इसमें 440 निगेटिव और आठ कोरोना पॉजिटिव मिले। जिले में पॉजिटिव की संख्या बढ़कर 256 हो गई है। अब तक कुल सात लोगों की मौत हो चुकी है। 184 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

कन्नौज में चार नए संक्रमित

इत्रनगरी कन्नौज में चार नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। यह चारों सदर ब्लॉक में मिले हैं। इससे अब शहर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 248 हो गई है। इसकी पुष्टि कन्नौज सीएमओ डॉ.के स्वरूप ने की है।