ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
ठग और धोखेबाज होता है ऐसा आदमी
July 1, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • aastha/Jyotish

हस्तरेखा विज्ञान में त्रिभुज की उपस्थिति पर विस्तृत विवेचना की गई है। इनमें से एक है त्रिभुज। इसके शुभ-अशुभ दोनों फल होते हैं। यदि आयु रेखा पर त्रिभुज हो तो व्यक्ति दीर्घायु होता है। मस्तिष्क रेखा पर त्रिभुज व्यक्ति को उच्च शिक्षा और तेज बुद्धि का फल देता है। हृदय रेखा पर त्रिभुज व्यक्ति के बुढ़ापे में भाग्योदय की ओर संकेत करता है। स्वास्थ्य रेखा पर त्रिभुज होने पर व्यक्ति श्रेष्ठ स्वास्थ्य पाता है। सूर्य रेखा पर बना त्रिभुज अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सफलता दिलाता है। त्रिभुज के मध्य भाग में बना कोई भी चिन्ह विशेष महत्व रखता है। यदि हथेली पर त्रिभुज के अंदर क्रॉस का चिन्ह हो तो व्यक्ति दूसरों को दुख देना वाला होता है। यदि त्रिभुज के मध्य में क्रॉस हो तो व्यक्ति नेत्रहीन होता है। त्रिभुज के अंदर तारे का चिन्ह होने पर व्यक्ति प्रेम में बदनाम होता है। त्रिभुज के अंदर वृत्त का चिन्ह हो तो व्यक्ति प्रेमिका से धोखा पाता है।

शनि पर्वत पर त्रिभुज होने पर व्यक्ति तंत्र-मंत्र के क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करता है। यदि यह त्रिभुज दूषित हो तो व्यक्ति बड़ा ठग और धोखेबाज होता है। ये पर्वत पर त्रिभुज का होना जातक के धार्मिक, परोपकारी तथा परहितकारी होने का प्रमाण देता है। इस स्थान पर सदोष त्रिभुज होने पर व्यक्ति समाज में निंदा, जीवन में असफलता और भाग्यवृद्धि में बाधा पाता है। बुध पर्वत पर त्रिभुज के चिन्ह वाला व्यक्ति सफल वैज्ञानिक बनता है और साथ ही व्यापार में विदेशों में भी सफलता पाता है। इस स्थान पर दोषयुक्त त्रिभुज होने पर व्यक्ति अपनी संचित पूंजी भी समाप्त कर देता है और व्यापार में दिवालिया होकर समाज में बदनामी पाता है।
(इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है।)