ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह भी हुए कोरोना पॉजिटिव, लखनऊ में 297 नए मामले
July 25, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

लखनऊ । कोरोना का संक्रमण लॉकडाउन में भी नहीं थमा। चार दि‍नों में एक हजार से अधि‍क मरीज वायरस की चपेट में आए। शुक्रवार को प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री समेत कई रोड वेज कर्मी व स्वास्थ्य कर्मी वायरस की चपेट में आए। उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है। वहीं, कुल मरीजों का आंकड़ा 297 रहा। अस्पतालों में सात मरीजों की सांसें थम गईं। इसमें एक बहराइच निवासी है।

बता दें, गुरुवार को पूर्व सांसद समेत 307 में वायरस की पुष्टि‍ हुई। पूर्व सांसद दाउद अहमद में कोरोना की पुष्टि‍ हुई है। उनका इलाज फैजाबाद रोड नि‍जी अस्पताल में चल रहा है। गत सप्ताह से तुलना की जाए, तो लॉकडाउन लागू होने से भी वायरस का प्रसार नहीं थमा है। 

बैंक कर्मचारी समेत पांच की कोरोना से मौत

राजधानी में गुरुवार को बैंक कर्मचारी समेत पांच लोगों की कोरोना से मौत हो गई। मरने वालों में तीन लखनऊ निवासी हैं, शेष अन्य जनपद के मरीज हैं। ऐसे में राजधानी में मृतकों की संख्या 65 हो गई। गुरुवार को राजाजीपुरम निवासी 45 वर्षीय बैंककर्मी की कोरोना से मौत हो गई। मरीज का इलाज निजी मेडिकल कॉलेज में चल रहा था। इसी मुहल्ले के 85 वर्षीय बुजुर्ग की भी कोरोना से मौत हो गई। केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह के मुताबिक, बुजुर्ग को 13 जुलाई को संस्थान मेें भर्ती कराया गया था। उन्हेंं डायबिटीज व ब्लड प्रेशर की भी परेशानी थी। गुरुवार को वेंटिलेटर पर इलाज के दरम्यान उसकी मौत हो गई। वहीं, गोसाईगंज निवासी 60 वर्षीय पुरुष की वायरस ने सांसें छीन लीं। उन्हेंं बुधवार को केजीएमयू के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया था। इसके अलावा गोंडा स्थित जगन्नाथपुरम निवासी 52 वर्षीय पुरुष की भी जान चली गई। मरीज को 15 जुलाई को भर्ती कराया गया था। उधर, लोहिया संस्थान के कोविड हॉस्पिटल में अयोध्या निवासी 60 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। मरीज को मंगलवार को भर्ती कराया गया था।

अनलॉक में गत सप्ताह के शुरुआती दि‍नों में 13 जुलाई को 196 केस आए। वहीं 14 जुलाई को 152, 15 जुलाई को 197 व 16 जुलाई को 308 केस दर्ज कि‍ए गए। वहीं चार थाना क्षेत्रों में लॉकडाउन में शहर में 20 जुलाई को 282, 21 जुलाई को 212, 22 जुलाई को 310 व 23 जुलाई को 307 मरीज पाए गए।

केजीएमयू माइक्रोबायोलॉजी वि‍भाग की शोधार्थी में कोरोना पाया गया। इसके पिता की पूर्व में कोरोना से मौत हाे चुकी है। वहीं कर्मचारी की कोरोना लैब में भी ड्यूटी लगी थी। वहीं बलरामपुर अस्पताल के होम्योपैथी डि‍सपेंसरी में तैनात फार्मासि‍स्ट में भी वायरस की पुष्टि‍ हुई है। इसके अलावा दो जेल कर्मी में कोरोना पाया गया। इसके अलावा शेष मरीज इंदि‍रा नगर, गोमतीनगर, पारा, आशि‍याना, गाजीपुर, सरोजनीनगर के हैं।