ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
संगीत सुनने से बढ़ती है दौड़ने की क्षमता
August 2, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • health & mahila jagat/Fashion

ये तो सभी जानते हैं कि दौड़ने या जॉगिंग करने के दौरान संगीत सुनने से अच्छा और उत्साहित महसूस होता है। लेकिन, अब वैज्ञानिकों का कहना है कि दौड़ने के दौरान संगीत सुनने से प्रदर्शन भी बेहतर होता है। वैज्ञानिकों ने एक ऐसा गाना भी बनाया है जो लोगों को तेज दौड़ने और लंबे समय तक दौड़ने के लिए प्रेरित कर सकता है। इससे लोगों की फिटनेस में बढ़ोतरी हो सकती है।

ब्रूनेल यूनिवर्सिटी के मनोवैज्ञानिक प्रोफेसर कोस्टास काराजियोरघिस के नेतृत्व में रन विद मी गाने का निर्माण किया गया है। कोस्टास पूर्व में कह चुके हैं कि सही संगीत सुनना किसी सही दवा की तरह काम करता है। इस गाने को सुनने से दौड़ने के दौरान गति में पांच फीसदी की तेजी आती है और थकावट के अनुभव में 15 फीसदी की कमी आ सकती है। 

पूर्व अध्ययनों की समीक्षा की-
प्रोफेसर कोस्टास और उनके सहयोगियों ने 139 पूर्व शोधों की समीक्षा की। यह शोध पिछले 107 सालों में कसरत पर संगीत के प्रभावों को लेकर की गई थी। उनकी समीक्षा की रिपोर्ट पत्रिका साइकोलॉजिकल बुलेटिन में प्रकाशित की गई है। इसमें कहा गया है कि कसरत के दौरान संगीत सुनने से उत्साह में बढ़ोतरी होती है, शारीरिक प्रदर्शन बेहतर होता है, थकावट के अनुभव में कमी आती और ऑक्सीजन लेने की क्षमता में बढ़ोतरी होती है।

प्रोफेसर कोस्टास ने कहा, संगीत और शारीरिक प्रतिक्रिया को आपस में घनिष्ठ संबंध है। संगीत आपकी कसरत की लय बनाए रखने में मदद करती है। यह कसरत को मनोरंजक बनाती है और प्रदर्शन में बढ़ोतरी करती है। संगीत आपको कसरत करने के लिए तैयार भी करता है। अगर कभी आपका कसरत करने का मन न करें तो सही तरह का संगीत सुनने से प्रेरणा मिलती है और आप तुरंत जॉगिंग पर जाने के लिए तैयार हो जाते हैं।