ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
पूर्वांचल के जिलों को जल मार्ग से जोड़ेगा रो-पास क्रूज
August 9, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

वाराणसी I प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट ‘अर्थ गंगा’ की जल्द ही बनारस से शुरुआत होने जा रही है। वाराणसी, गाजीपुर और मिर्जापुर आदि जिलों में गंगा किनारे बसे इलाकों का व्यापार बढ़ाने के लिए रो-पास (माल और पैसेंजर) क्रूज चलाने की तैयारी हो रही है। इससे सवारी के साथ ही माल की ढुलाई भी होगी।

जल परिवहन मंत्रालय की पहल पर जलमार्ग प्राधिकरण ने रो-पास क्रूज पटना से बनारस रवाना कर दिया है। यह क्रूज 10 या 11 अगस्त तक पहुंच जाएगा।
केंद्र सरकार 2015 से बनारस में रो-रो सेवा शुरू करने के लिए प्रयासरत थी। गंगा के जरिए एक स्थान से दूसरे स्थान तक माल ढुलाई की व्यवस्था अब साकार होने वाली है।

रो-पास क्रूज सेवा शुरू होने से दीनदयाल नगर (मुगलसराय), मिर्जापुर और गाजीपुर के लोगों को बनारस शहर में माल पहुंचाने में आसानी होगी। गंगा किनारे क्रूज पर माल चढ़ाने व उतारने के लिए जेटी का निर्माण होगा। 

जलमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी अरविंद कुमार ने बताया कि भारत सरकार ने प्रदेश सरकार को यह क्रूज बिना किसी शुल्क में दिया है। यह क्रूज छोटे जहाज की तरह बना है। इसके संचालन व मरम्मत की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी। जल्द ही प्रशासन के साथ क्रूज हस्तांतरण के संबंध में बैठक होगी। 

200 लोगों के बैठने की क्षमता, ट्रक भी लद सकेंगे 
अरविंद  कुमार ने बताया कि इस क्रूज में 200 लोगों के बैठने की क्षमता होगी। साथ ही दो बड़े ट्रक, चार कार और 50 बाइक खड़ी हो सकेगी। इसमें किचेन या खाने-पीने आदि की व्यवस्था नहीं है। अधिकारी के मुताबिक क्रूज को अपस्ट्रीम में छह से सात किमी और डाउनस्ट्रीम में 12 से 15 किमी की रफ्तार से चलाया जाएगा।

चुनार से कैथी के बीच यह दिनभर में दो बार आवागमन कर सकता है। हालांकि अंतिम निर्णय जिला प्रशासन को लेना है। उन्होंने बताया कि पहले चरण में यह रामनगर से खिड़किया घाट के बीच संचालित होगा। अधिकारियों के मुताबिक क्रूज संचालन से पहले कैथी से चुनार के बीच क्रूज पर माल लोडिंग और अनलोडिंग के लिए 10 से 12 स्थानों पर जेटी लगायी जाएगी। क्रूज का किराया अभी तय नहीं है।