ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
पांच डॉक्टर-कर्मी समेत 282 संक्रम‍ित, तीन की मौत
July 21, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

लखनऊ । शहर में कोरोना का प्रकोप जारी है। आम इंसान ही नहीं, डॉक्टर, नर्स कर्मचारी भी वायरस की गिरफ्त में आ रहे हैं। सोमवार को शहर में 282 कोरोना के नए मरीज पाए गए। वहीं सोमवार को तीन और मरीजों की मौत हो गई। इसमें दो केजीएमयू व एक मरीज की लोहिया संस्थान में इलाज के दरम्यान सांस थम गई।

केजीएमयू में तीन रेजीडेंट डाॅक्टरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें एक मेडिसिन विभाग का है। वहीं दो सर्जरी विभाग के डॉक्टर हैं। इसके अलावा चार कर्मचारियों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। वहीं सिविल अस्पताल में दो डॉक्टरों सहित तीन लोगों कोरोना की गिरफ्त में आ गए। यह डॉक्टर टीबी एंड चेस्ट विभाग के दो डीएनबी छात्र हैं। इसके अलावा एक स्टाफ नर्स भी पॉजिटिव निकली है। इन सभी को इलाज के लिए लोकबंधु में शिफ्ट कराया गया है। अलावा संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों की लिस्ट तैयार कर ली गई है। केजीएमयू व सिविल में 20 स्टाफ को क्वारंटाइन की सलाह दी गई है।

शहर में सोमवार को कुल 282 मरीज कोरोना की चपेट में आए। इनमें से सबसे अधिक संख्या इंदिरा नगर, गोमतीनगर के मरीजों की है। इंदिरा नगर में वायरस का प्रकोप दिनाें दिन बढ़ रहा है। अब तक सात के करीब मौतें हो चुकी हैं। कई मरीज पारा, रायबरेली रोड, कानपुर रोड, राजाजीपुरम, सीतापुर रोड के भी हैं। वहीं रायबरेली रोड पर एक मिठाई के दुकान पर कार्यरत कर्मी में कोरोना मिलने से इलाके में हड़कंप रहा। वहां मिठाई खरीदने वाले ग्राहकों में भय बना हुआ है। इसके अलावा इंटौजा समेत ग्रामीण सीएचसी पर कोरोना टेस्ट किए गए। यहां भी कोरोना के मरीज मिले।

ट्रॉमा वेंटिलेटर यूनिट में भर्ती मरीज में कोरोना

केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर के वेंटिलेटर यूनिट में भर्ती मरीज में कोरोना पाया गया। सात दिन पहले मरीज को संंस्थान में भर्ती किया गया था। उस वक्त उसकी रिपोर्ट निगे टिव थी। ऑपरेशन के बाद मरीज को वेंटिलेटर यूनिट भेजा गया। यहां उसकी हालत गड़बड़ा गई। दोबारा टेस्ट कराया गया, रिपोर्ट पॉजिटिव अाई। ऐसे में मरीज की भर्ती वाली यूनिट को बंद कर दिया गया है। वहीं संपर्क में आए सात स्टाफ को क्वारंटीन किया गया है।

कहां फैला कोरोना, छिपा रहे अफसर

शहर में कोरोना कहां फैला है। किस इलाके में कितने मरीज संक्रमित हुए हैं। कहां कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। वायरस को रोकने में नाकाम अफसर मरीजों का ब्योरा ही छिपाने लगे हैं। ऐसे में लोगों को वायरस के बारे में सटीक जानकारी नहीं मिल पा रही है। वह सतर्कता बरतने में चूक रहे हैं। लिहाजा वह भी संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं।

राजधानी के अस्पतालों में कोरोना से तीन मरीजों की मौत

राजधानी में कोरोना मरीजों की मौत का सिलसिला जारी है। सोमवार को तीन और मरीजों की मौत हो गई। इसमें दो केजीएमयू व एक मरीज की लोहिया संस्थान में इलाज के दरम्यान सांस थम गई।

लाजपत नगर निवासी केजीएमयू में 90 वर्षीय बुजुर्ग को रविवार को केजीएमयू में भर्ती कराया गया। संस्थान के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह के मुताबिक मरीज को एक्यूट रेस्परेटरी डिस्ट्रेस सिंड्रोम हो गया। उनके फेफड़ों ने काम करना बंद कर दिया। सोमवार को मरीज की मृत्यु हो गई है। ऐसे ही कोरोना वार्ड में भर्ती दूसरे मरीज की भी इलाज के दरम्यान सांसें थम गई हैं। वहीं लोहिया संस्थान में इंदिरा नगर निवासी 72 वर्षीय मरीज को निजी अस्पताल से शिफ्ट किया गया। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। संस्थान के प्रवक्ता डॉ. श्रीकेश के मुताबिक इलाज के दरम्यान महिला की मौत हो गई।