ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
लोगों को बीमारियों से बचा रहा लखनऊ का ये पंचवटी पार्क
June 15, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

वनवास के समय वन में राम ने जिस स्थान पर समय गुजारा हम उसे ही पंचवटी के नाम से जानते हैं पर, लखनऊ में गोमतीनगर के विनय खंड एक में ऐसा पंचवटी पार्क है जिसको वहां के कुछ लोगों ने संवारा है। इस पार्क में भी वनों में पाई जाने वाली वो सभी प्रकार की औषधियां हैं जो विभिन्न बीमारियों में जीवन रक्षक का काम करती हैं। इस पार्क का लाभ उसके आसपास रहने वाले 200 परिवारों के लोग उठा रहे हैं। बीमारियों से तो बच ही रहे हैं। यह पार्क क्षेत्र के वातावरण में सुधार के साथ यहां के लोगों को स्वस्थ भी रखने में कारगर सिद्ध हो रहा है। 

इस पार्क का रखरखाव करने में जुटे कालोनी के लोगों ने बताया कि 12 साल पहले यह पार्क उजाड़ पड़ा था। अराजक तत्व इसमें बैठते थे। सबने प्रयास किया, पुलिस की कार्रवाई कराई। अराजक तत्वों का आना-जाना बंद हुआ। पुलिसकर्मियों के यह कहने पर कि आप लोग इस पार्क को विकसित करिये हम कुछ लोगों ने इस पार्क को संवारने का बीड़ा उठाया। जिसके बाद यहां धीरे-धीरे अन्य संस्थाएं भी मदद को आ गईं। अब इस पार्क ने पंचवटी वन जैसे गुण ले लिये हैं। यहां धनवंतरि वाटिका, तुलसी की चार किस्में, अश्वगंधा, सर्पगंधा, घृतकुमारी, पत्थरचट्टा, पलास, शमी, सफेद मदार, पीपल आदि के पौधे पेड़ बन चुके हैं। बड़े से लेकर छोटे नीबू के पौधे यहां देखने को मिलेंगे। पेड़ों में मनी प्लांट की बेल इनती बड़ी हो चुकी है कि उसके इतने बड़े पत्ते कहीं देखने को नहीं मिलेंगे। दुर्लभ कल्पवृक्ष भी यहां अपनी शोभा बिखेरता नजर आता है।
 
कालोनी में हरियाली की मिसाल बना पार्क
पांच सौ गमलों में पौधे और अलग से नवग्रह वाटिका बनवाई गई। पंचवटी वाटिका, धनवंतरि वाटिका, लौंग, इलायची, तेज पत्ता, कल्पवृक्ष, रद्राक्ष, सफेद चंदन, लाल चंदन, कपूर का पेड़ लगवाए गये। अब यह पार्क कालोनी के बीच पर्यावरण का जीता-जागता उदहारण बन गया है। 
विनोद कुमार पाण्डेय, अध्यक्ष
गोमतीनगर जनकल्याण महासमिति विनयखंड-एक  
 
रोटरी क्लब ने लगवा दिये झूले
रोटरी क्लब ने यहां झूले लगवाए, बेंच बुजुर्ग लोगों ने दान दे दी, किसी ने वाटर कूलर लगवा दिया और ग्रीन वर्ल्ड कम्पनी के संजय मेहरोत्रा ने स्ट्रंक्लर सिस्टम लगवा दिया जो फव्वारे के रूप में यहां आज भी लगा है। 
लक्ष्मीनारायण अग्रवाल, निवासी
गोमतीनगर विनयखंड-एक