ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
लखनऊ में 100 और मिले कोरोना पॉजिटिव, अब तक 4517 संक्रमित
July 22, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

लखनऊ । उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बना हुआ है।  राजधानी में बुधवार को 100 लोगों में कोरोना वायरस मिला।  बता दें, बीते मंगलवार को राजधानी में कोरोना से दो लोगों की मौत हो गई। वहीं,  212 मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई। वहीं, वायरस से गोंडा में राजस्व निरीक्षक की मौत हो गई।  उधर, रायबरेली में कोरोना से 65 वर्षीय महिला की मौत हो गई। यह मौत जिले में 8वीं बताई जा रही है। बलरामपुर में चार और पॉजिटिव मिले हैं। वहीं, एक मिठाई विक्रेता की मौत हो गई।

कोरोना संक्रमण की चपेट में आए तरबगंज निवासी एक राजस्व निरीक्षक की उपचार के दौरान मौत हो गई। वह बस्ती जिले में राजस्व निरीक्षक के पद पर तैनात थे। बताया जाता है कि तरबगंज के रांगी निवासी कवींद्र बली बस्ती जिले में राजस्व निरीक्षक के पद पर तैनात थे। उन्हें सांस लेने में समस्या थी, जिस पर परिवार जन ने उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। मंगलवार को उनकी जांच कराई गई, जिसमें वह पाजिटिव निकलकर आए। इसके बाद उन्हें लेवल टू कैटेगरी के सतीश चंद्र पांडे मेमोरियल हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था, जहां पर उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। एसडीएम तरबगंज राजेश कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि प्रोटोकॉल के तहत ढेमवाघाट पर अंतिम संस्कार किया जा रहा है।

मिल एरिया के तुलसी नगर की 65 वर्षीय महिला की इलाज के दौरान लखनऊ में मौत हो गई। तीन दिन पहले उन्हें जिला अस्पताल की इमरजेंसी में भर्ती किया गया था। सोमवार की रात उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गयी थी। जिसके बाद उन्हें लखनऊ के एल 3 अस्पताल में भर्ती किया गया था। वहीं, पर उनकी मौत हुई है। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत आज उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। उनके परिवार के लोगों के साथ ही सम्पर्क में आने वालों को क्वारन्टीन किया जा रहा है। आज उनकी एंटीजन टेस्टिंग होगी। जिसमें महज आधे घंटे में रिपोर्ट आ जाती है। बता दें कि जिले में अब तक कोरोना पॉजिटिव 8 लोगो की मौत हो चुकी है।

कोरोना संक्रमण की चपेट मे आए नगर के प्रतिष्ठित मिठाई विक्रेता की मंगलवार की देर रात लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गई। पॉजिटिव निकलने के बाद उसे लखनऊ के केजीएमयू में भर्ती कराया गया था। साथ ही चार और पॉजिटिव मिले हैं जिनमें तीन नगर के सिविल लाइन व एक मथुरा बाजार चौकी  क्षेत्र का रहने वाला है। सीएमओ  डॉ. घनश्याम सिंह ने बताया कि मिठाई विक्रेता की मृत्यु की सूचना मिली है। केजीएमयू प्रशासन से संपर्क किया जा रहा है। मंगलवार देर रात आई रिपोर्ट में चार और पॉजिटिव मिले हैं। सभी संक्रमितों को एल-1 हास्पिटल में शिफ़्ट कराया जा रहा है। अब तक 155 पॉजिटिव मिल चुके हैं जिनमें चार की मौत हो चुकी है। 41 एक्टिव केस हैं ।

राजधानी में अब तक  58 मौत 

मंगलवार को राजधानी में कोरोना से दो लोगों की मौत हो गई। केजीएमयू के प्रवक्ता डॉ सुधीर सिंह ने बताया कि कुर्मी टोला निवासी मरीज को 19 जुलाई को कोरोना वार्ड में भर्ती किया गया था। उन्हें  लिवर  की बीमारी थी। रेस्पिरेट्री फेलियर से  उनकी मृत्यु हो गई। वहीं, आदिल नगर निवासी 55 वर्षीय पुरूष की भी केजीएमयू के कोरोना वार्ड में मौत हो गई। उन्हें सोमवार रात 8:30 बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था।  रोगी को डायबिटीज और किडनी की समस्या थी। राजाजीपुरम निवासी जिस चिकन व्यापारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।  उनके परिवार के अन्य सदस्यों के भी  नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। क्षेत्र में इसके अलावा दो अन्य लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव पाई गई है। जबकि जानकीपुरम में 5 लोग और अलीगंज में नौ लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इन लोगों के परिवार के लोग पहले भी पॉजिटिव आ चुके हैं। ऐसे में अब राजधानी में कोरोना से हुई मौतों की संख्या 58 हो गई है।  वहीं, संक्रमित लोगों की संख्या 4417 हो गई है। 

इंदिरा नगर में थम नहीं रहा संक्रमण का सिलसिला

राजधानी के इंदिरा नगर और गोमती नगर में लगातार मरीज पॉजिटिव मिल रहे हैं। मंगलवार को इंदिरानगर और गोमती नगर में 11-11 मरीज पाए गए हैं। यहां अब तक 100 से ज्यादा पॉजिटिव मरीज पाए जा चुके हैं।

इन इलाकों में भी मिले मरीज

जानकीपुरम 5,अलीगंज 9, हुसैनगंज 2, आलमबाग 10 , रकाबगंज दो,  विकास नगर चार, हजरतगंज पांच, राजेंद्र नगर 5 ,बादशाह नगर 2,  सीतापुर रोड 2, बालागंज 3 चौक 4,  कैंट 1, कानपुर रोड 5, व्रन्दावन 1, अमीनाबाद 2,  सुशांत गोल्फ सिटी 2,  नादान महल रोड 4  मरीज पाए गए हैं।

नहीं मान रहे लोग

लोग बगैर मास्क इधर-उधर बेफिक्री से घूम रहे हैं।वही ठेले लगाने वाले भी मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैं । नतीजा यह है कि लोगों की लापरवाही शहर पर भारी पड़ रही है और राजधानी में नित नए कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। प्रशासन भी ढीला पड़ा हुआ है और लोगों को कोई डर नहीं रह गया है। ऐसे में सप्ताह में 2 दिन की बंदी से भी कोई फायदा मिलता नहीं दिख रहा है।

सिविल में एक सफाईकर्मी सहित चार मरीज निकले कोरोना पॉजिटिव

सिविल अस्पताल में हर रोज अस्पताल के कर्मचारियों की कोविड जांच कराई जा रही है। मंगलवार को लगभग 184 जांचें की गईं। वहीं, मंगलवार को अस्पताल के कार्यालय में एक महिला संविदा सफाईकर्मी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव निकलने के बाद कार्यालय को 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गय है। साथ ही चार अन्य मरीज भी पॉजिटिव निकले, जिनकी रिपोर्ट सीएमओ कार्यालय भेज दी गई है। वहीं, बलरामपुर अस्पताल में करीब 60 जांचें हुईं जिनमें तीन मरीज पॉजिटिव निकले।