ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
लावारिस मिली तीन लग्जरी कारों में से एक भाजपा नेता की, कॉमेडियन अन्नू अवस्थी भी पहुंचे थाने
July 6, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

कानपुर। विकास दुबे के कानपुर कनेक्शन को खंगाल रही पुलिस ने तीन लग्जरी लावारिस कारें बरामद कीं। तीनों में नंबर प्लेट भी नहीं थी। पुलिस ने गाड़ियां कब्जे में लेकर जांच शुरू की तो पता चला कि ब्रह्मनगर निवासी युवक के पास तीनों गाड़ियां थीं। इनमें से एक लग्जरी कार भाजयुमो के प्रदेश मंत्री प्रमोद विश्वकर्मा के नाम निकली। विकास दुबे के संपर्क के चलते पुलिस ने पूछताछ के लिए कार मालिक को पूछताछ के लिए उठाया था। इसके बाद उसने तीनों गाड़ियों को लावारिस खड़ा करा दिया।
काकादेव थाना प्रभारी के मुताबिक जांच में सामने आया कि ब्रह्मनगर निवासी जय बाजपेई की तीनों गाड़ियां हैं। गाड़ियां तो वह इस्तेमाल करता है लेकिन एक भी कार उसके नाम से नहीं है। इनमें से ऑडी भाजपा नेता प्रमोद विश्वकर्मा की है, जबकि फॉर्च्यूनर चकरपुर निवासी राहुल और वर्ना अशोक नगर निवासी कपिल सिंह के नाम है। कलई खुलने लगी तब जय ने बताया कि उसके बड़े भाई अजय की चौबेपुर दिलीप नगर गांव में ससुराल है। 30 जून को अजय के साले की बेटी के शादी में पूरा परिवार गया था। विकास दुबे के संपर्क में होने के चलते संदेह पर शनिवार को एसटीएफ ने पूछताछ के लिए उठाया था। शादी में विकास दुबे के शामिल होने की एक फोटो भी पुलिस के हाथ लगी है। इसके बाद दहशत में आए परिवार के लोगों ने तीनों गाड़ियों की नंबर प्लेट निकालकर विजय नगर निवासी अविनाश के घर के सामने कारें खड़ी कर दी थीं।
थाना प्रभारी के मुताबिक प्रमोद विश्वकर्मा का कहना है कि उनके दोस्त जय का बैंक सिविल अच्छा नहीं होने के चलते उनके नाम से लग्जरी कार खरीदी थी लेकिन अन्य दो गाड़ियां जय ने दूसरे के नाम क्यूं खरीदीं इसका जवाब जय नहीं दे सका। इन सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। जांच के बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी।

कॉमेडियन अन्नू अवस्थी का करीबी है बरामद कारों का मालिक
ब्रह्मनगर से उठाई गई लग्जरी कारों का मालिक जय बाजपेई कॉमेडियन और टीवी सीरियल में काम कर चुके अन्नू अवस्थी का काफी करीबी है। जय को पूछताछ के लिए ले जाया गया तो अन्नू अवस्थी भी थाने पहुंच गए। उनका कहना है कि जय से उनके पारिवारिक संबंध हैं। जय का गांव दिलीपपुर बिकरू के पास है। 
नजीराबाद पुलिस विजयनगर से गाड़ियां बरामद कराने के बाद जय को थाने ले आई। पूछताछ के बाद पुलिस ने रात लगभग 3:30 बजे  के बाद जय व उसके भाई रजय को फिर बुलाने पर आने की बात कहकर घर भेज दिया। रविवार को फिर काकादेव सीओ कार्यालय में दोनों भाइयों को पूछताछ के लिए बुलाया गया। अन्नू अवस्थी का कहना है कि बरामद गाड़ियां जय की ही हैं। जय के साले ने अपने परिचित के घर के पास गाड़ियां ख़ड़ी कराई थीं। किसी ने लावारिस कारें खड़ी होने की पुलिस को सूचना दे दी।

ब्रह्मनगर में है जय का कारोबार
अन्नू अवस्थी का कहना है कि जय की ब्रह्मनगर में ही कार एसेसरीज, इलेक्टिकल्स व इनवर्टर बैटरी की शॉप है। पारिवारिक रिश्ता होने से कार का उन्होंने कई बार इस्तेमाल किया है।