ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
इन मंत्रों का हर रविवार 108 बार करें जाप, पूर्ण होंगी मनोकामनाएं
July 19, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • aastha/Jyotish

हर दिन किसी भगवान को समर्पित किया गया है। ऐसे में अगर रविवार की बात की जाए तो यह दिन सूर्य देवता को समर्पित है। कहते हैं सूर्य देव जीवन, स्वास्थ्य एवं शक्ति के देवता हैं। इनकी कृपा ही है जिससे धरती पर जीवन बरकरार है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, सूर्य की आराधना अगर उदय होते हुए की जाए तो उसका फल बेहद कल्याणकारी होता है। ऐसा कहा जाता है कि सूर्य की उपासना से फल जल्दी मिलता है। सूर्य देव की आराधना सिर्फ साधु-संतों ने ही नहीं बल्कि प्रभु श्री राम ने भी की थी। वहीं, कई लोग डूबते सूर्य को भी अर्ध्य देते हैं। इसके पीछे का ध्येय यह माना जाता है कि हम सभी आपको आमंत्रित कर रहे हैं जिससे आप कल सुबह की हमारी पूजा स्वीकार करें। साथ ही मनोकामनाएं भी पूर्ण करें। 

रविवार के कई लोग सुबह सूर्योदय से पहले उठकर स्नान आदि से निवृत होकर सूर्य को जल चढ़ाते हैं। कहते हैं जिनका सूर्य बलवान होता है उनकी जीवन में परेशानियों के लिए घर नहीं होता। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, प्रतिदिन सूर्य पूजन और सूर्य मंत्र का 108 बार जाप करने से मनुष्य को लाभ जरूर मिलता है। लेकिन ऐसा भी कहा जाता है कि अगर आप प्रत्येक रविवार जो सूर्यदेव का ही दिन है, सूर्य पूजन और सूर्य मंत्र का जाप करते हैं तो सूर्य देव आपकी मनोकामनाएं पूर्ण करते हैं। हम आपको सूर्य देव के कुछ मंत्रों की जानकारी दे रहे हैं जिनका जाप हर रविवार या प्रत्यके दिन 108 बार करना चाहिए। 

1. ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः।

2. ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय सहस्रकिरणराय मनोवांछित फलम् देहि देहि स्वाहा।।

3. ॐ ऐहि सूर्य सहस्त्रांशों तेजो राशे जगत्पते, अनुकंपयेमां भक्त्या, गृहाणार्घय दिवाकर:।

4. ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ।

5. ऊं घृ‍णिं सूर्य्य: आदित्य:।

घ्यान रहे किसी भी मंत्र का जाप करने से तब फल मिलता है जब उसका उच्चारण एकदम सही और साफ मन से किया जाए।