ALL National/Others Lucknow/UP News aastha/Jyotish health & mahila jagat/Fashion recipe international Bollywood/entertainment technology Cricket Travels
गिलोय, लेमन ग्रास और तुलसी के पौधों का नगर निगम मुफ्त में करेगा वितरण
June 5, 2020 • जयंती एक्सप्रेस • Lucknow/UP News

लखनऊ । कोरोना वायरस कई सीख भी दे रहा है। वायरस से निपटने के लिए घरेलू उपचार पर जोर दिया जा रहा है और इसकी पहल भी नगर निगम ने की है। अब एक लाख आंगन में गिलोय, लेमन ग्रास और तुलसी के पौधे दिखाई देंगे। विभिन्न नर्सरी में यह पौधे तैयार किए जा रहे हैं। दरअसल इस पौधे की याद इसलिए आई है कि जब कोरोना वायरस को लेकर गिलोय, तुलसी और लेमन ग्रास का काढ़ा बनाकर पीने की सलाह दी गई थी लेकिन घरों में कैद लोग इन्हें पार्क से नहीं ला पा रहे थे तो किसी के घर में जाकर मांगना संभव नहीं था। ' पहले चरण में एक लाख घरों में यह पौधे दिए जाएंगे।

कोरोना से संक्रमित इलाकों को प्राथमिकता दी जाएगी, जिससे वहां के निवासी इन पौधों का सेवन कर संक्रमण से बच सकें। नगर निगम की विभिन्न नर्सरी में यह पौधे तैयार किए जा रहे हैं और जुलाई में इसका वितरण किया जाएगा। इसका देने का मकसद है कि लोग इसका सेवन कर प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं और संक्रमण से लड़ सकें। डाॅॅ. इंद्रमणि त्रिपाठी नगर आयुक्त किसके क्या फायदे तुलसी दमा और टीबी रोग में बहुत लाभकारी है। रोजाना तुलसी खाने से दमा और टीबी नहीं होता।

तुलसी : औषधीय गुण के कारण यह बीमारी के लिए जिम्मेदार जीवाणु को बढऩे से रोकती है. शहद, अदरक और तुलसी को मिलाकर बनाया गया काढ़ा पीने से दमा, कफ और सर्दी में राहत मिलती है। तुलसी के पत्तों में एंटी ऑक्सीडेंट होते है, जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता यानी कि इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं। यदि आपको सर्दी व फिर हल्का बुखार हो गया हो तो आप मिश्री, काली मिर्च और तुलसी के पत्ते को पानी में अच्छी तरह से पकाकर काढ़ा बना ले और फिर इसे पी ले। आप चाहें तो इस घोल को सुखाकर इसकी गोलियां बनाकर भी खा सकते हैं। इससे आपको सर्दी व हल्के बुखार में फायदा होगा।

गिलोय: इसमें एंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो खतरनाक रोगों से लड़कर शरीर को सेहतमंद रखते हंै। गिलोय किडनी और लिवर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालती है और खून को साफ करती है। नियमित रूप से गिलोय का जूस पीने से रोगों से लडऩे की क्षमता में बढ़ोत्तरी होती है। किसी व्यक्ति को लगातार सर्दी-खांसी-जुकाम की समस्या हो रही हो तो उन्हेंं गिलोय के रस का सेवन कराएं। दो चम्मच गिलोय का रस हर रोज सुबह लेने से खांसी से काफी राहत मिलती है। यह उपाय तब तक आजमाएं, जब तक खांसी पूरी तरह ठीक न हो जाए।

लेमनग्रास : इसका सेवन पाचन सुधारने में मदद करता है। इससे पेट की सूजन, पेट फूलना, पेट में ऐंठन, अपच, कब्ज, दस्त, उल्टी और ऐंठन जैसी पाचन संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिलने में मदद मिलती है।जिन बच्चों को आसानी से नींद नहीं आती, उनके लिए इनका सेवन फायदेमंद है। लेमनग्रास एनिमिया के विभिन्न प्रकार में उपयोगी होता है।